Tuesday, April 20, 2010

गौरी


ई है मेरी बछिया "गौरी"! गौरी अभी कुछ महीने की है! इस बार के गाँव विसीट में इनसे मेरा परिचय करवाया गया!




बछिया ने गागल्स लगाया है, कितनी क्यूट लग रही है!

19 comments:

  1. ek dum bollywood ke rang mein dhal gayi hai "Gauri"...

    ReplyDelete
  2. Arre ....Gauri to sanwali saloni hai. Chasma tumhara lagaya fir bhi lagati bholi hai :)

    ReplyDelete
  3. बछिया और छबीली हो गयी है ... :)

    ReplyDelete
  4. hummmm sundar lag rahi sundar se bachhiya !! or upar se chashma...gajab dhaa rha h!!

    ReplyDelete
  5. मैनें अपनी बछियों के नाम श्यामा, गंगा, जमुना और सरस्वती रखे और बछड़े के नाम कृष्णा, भीमा, मंगल और सुमंगल रखे थे । श्यामा और गंगा पटना में ही ली थीं ।

    ReplyDelete
  6. to unki bhi photo lagaeye agar ho to

    ReplyDelete
  7. यहाँ तीन बातें हैं कहने को -
    1) चित्र से दिख रहा है कि "शान की सवारी" हो रही है यहाँ भी।
    2) गॉगल्स लगाए कई बछियाँ हमने पहले भी देखी हैं, भैंसें भी, मगर गौरी वाकई बछिया है।
    3) अगर ये सब गौरी की सहमति से न हुआ हो तो बहुत मुश्किल हो जाएगी। पेटा (PETA) वlओं को या मानेका जी को ख़बर हो गई तो बात बढ़ सकती है, इसलिए सहमति पत्र पर सलोनी का खुर लगवा लो।

    ReplyDelete
  8. Bahut sundar bachhiya hai apakee-----.

    ReplyDelete
  9. @ हिमांशु - हा हा हा .... क्या गजब का observation है आपका :) और तीनों पॉइंट्स एकदम सही :-D :-D

    ReplyDelete
  10. सहमति पत्र पर सलोनी का खुर लगवा लो

    हे हे.. इस बार चुनाव मे वोटिग भी करवा ही लेते है उससे.. क्या कहते है हिमान्शु जी.. :)

    ReplyDelete
  11. bachhiya gauri to mast dikh rahi hai goggles mein ;)

    ReplyDelete
  12. गौरी..बड़ी क्यूट है...किस पर गई है??

    ReplyDelete
  13. इसमें से गौरी कौन है जी :)

    ReplyDelete
  14. हा हा ...अब देखिये...एक्के ठो तो गागल्स लगायी है...तो वही न गौरी होगी

    ReplyDelete
  15. गौरी अपनी माँ "भोली" पर गयी है

    ReplyDelete
  16. चश्मा लगाते ही लोग क्यूट हो जाते हैं। वैसे ब्लॉगरों में किसी ने समीर भाई को क्यूट कहा था। सबसे क्यूट! :)

    ReplyDelete
  17. तो गांव विज़िटाने के दौरान खूब मजे किए आपने। गुड है जी

    ReplyDelete